पंचायत भवन के सामने गंदगी के ढेर

0
हरसौर.पंचायत भवन के सामने पड़ी गंदगी।

विकास कार्यों के बाद बढी गांव में सुविधाएं, लेकिन आज भी नहीं हुआ वर्षों पुरानी समस्याओं का समाधान,

गन्दगी आलम, पंचायत भवन व राजीव गांधी सेवा केन्द्र के सामने गंदगी के ढेर लगे रहते हैं।

पंचायत भवन के सामने गंदगी के ढेर कैसे करें नए सरपंच का स्वागत
हरसौर.राजीव गांधी सेवा केन्द्र के पास पड़ी गंदगी।

फ़ास्ट न्यूज़ हरसौर: पंचायती राज संस्थाओं के लिए होने वाले मतदान के दिन अब ज्यादा दूर नहीं हैं।

10 अक्टूबर को पंच-सरपंच के लिए मतदान प्रक्रिया पूरी होनी हैं।

पंचायत चुनाव के सम्पन्न होने पर नवनिर्वाचित सरपंचों व निविरोध व नवनिर्वाचित वार्ड पंचों को पद भार ग्रहण हेतु

पंचायत भवन या राजीव गांधी सेवा केन्द्र ले जाया करते हैं, लेकिन हरसौर के पंचायत भवन के बाहर व

राजीव गांधी सेवा केन्द्र के पास लगे हैं गन्दगी के ढेर, जिनके कारण यहां से गंदी बदबू आती रहती हैं

एसे मे यहा नए सरपंच का स्वागत कैसे सम्भव है ?

गंदगी के कारण अधिकत्तर दिनों में राजीव गांधी सेवा केन्द्र की खिड़किया बंद रहती हैं।

खिड़कीयां तक बंद रहती है गंदगी के आलम सें। यह गंदगी खुद अपनी कहानी बयां कर रहें हैं।

गन्दगी पर विचरण कर रहें आवारा पशु व्यवस्था की मजाक बनाते नजर आ रहें हैं।

भलें ही पुर्व सरपंच ने अपने विकास मे कोई खामी नहीं रखी हो पर क्या इस समस्या से इस बार निजात मिल पाएगी ?

क्या इस बार के नए सरपंच गांवों में सफाई व्यवस्था आलम कर पाएंगे ? यह प्रशन आसान हैं,

परन्तु जवाब उतना ही मुश्किल।

अलग-अलग विकास योजनाओं ने गांव में सुविधाओं को बढ़ाया हैं

लेकिन आज भी कई समस्याएं ऐसी हैं जो बरसों से बनी हुई हैं। ऐसी कौन सी समस्याएं हैं

जिनसे आज भी ग्रामीणों निजात नहीं पा सके, इसकी जानकारी जुटाने के लिए पत्रिका टीम ने ग्रामीण क्षेत्रों में

हालात जाने केई समस्याएं ऐसी नजर आई जो कि वास्तव में बरसों पुरानी हैं और गांव में आज भी

उन समस्याओं के चलते लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता हैं। आज भी कई मोबाइल कंपनियों

का नेटवर्क गांव में नहीं हैं, आवागमन के लिए रोडवेज आदि की सुविधा नहीं होने के कारण नागरिकों को आज भी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा हैं।

अधिकतर गांव में पर्याप्त व्यवस्था भी नहीं हैं। सफाई व्यवस्था के मामले में भी कई ग्राम पंचायत से कमजोर

साबित हो रही हैं। ऐसे में लोगों का कहना है कि जनता तो उसे वोट देंगी जो वास्तव में गांव की सूरत बदल पाए।

गांव की सफाई व्यवस्था बेहतर हो इसके लिए कई योजनाएं अभियान चलाए जा सकते हैं,

लेकिन गांव में आज भी पूरी तरह से माकुल नहीं हैं। नाले-नालियों के अभाव में सड़क मार्ग पर जमा कीचड़

अपनी कहानी आप कहते नजर आता हैं।

कई ग्रामीण क्षेत्र ऐसे हैं जहां पर गली मोहल्ले में नियमित सफाई की व्यवस्था नहीं होने के चलते लोगों को

परेशानी का सामना करना पड़ता है। आस पास के गांवों का व्यापारिक केन्द्र- हरसौर आदेश नगर चौराहा

होने के बाद भी चौराहा पर सफाई व्यवस्था केवल औपचारिक रूप से कि जा रही हैं, चौराह पर नाले,

मुत्रालय व शौचालय की व्यवस्था नहीं हैं। सडकों पर सैकड़ो की संख्या मे मवेशि भटकते रहते हैं जो वाहनों को भारी नुकसान पहुंचाते हैं।

सफाई व्यवस्था को लेकर कई बार उठाएं मुद्दे, केवल लिपापोथी कर छोड़ गए अधिकारी

हरसौर पंचायत भवन और राजीव गांधी सेवा केन्द्र के बाहर लगें गंदगी के ढेर पर कई बार सफाई व्यवस्था को लेकर

खबरें प्रकाशित की पर उचित कार्रवाई के अभाव मे आज भी यह गंदगी आमजन को सता रही हैं,

गदंगी पर उमड़े मवेशि समस्या को और विकराल रुप दे देते हैं। महज खानापुर्ती करते रहें अधिकारी समस्या का

समाधान अब भी नहीं एसे मे गन्दगी युक्त पंचायत भवन व राजीव गांधी सेवा केन्द्र से अधिकारी नए सरपंच का स्वागत करेंगें।

निम्न कार्य को तरस रहा पंचायत भवन

कस्बे के सदर बाजार स्थित पंचायत भवन कई समस्याओं जुज रहा हैं।

पंचायत भवन के सामने बने नाले डटे पड़े हैं जिससे नाले का पानी वर्षा ऋतु मे पंचायत भवन के सामने

पसर जाया करता हैं। सफाई व्यवस्था का अभाव पंचायत भवन के पास बने शौचालय अब कचरा पात्र बन चुके हैं।

सदर बाजार का अधिकांश कचरा पंचायत भवन के पास डाला जा रहा हैं, जिससे हालात बद से बद्दत्तर हो गए हैं।

मोबाइल पर बात करने के लिए चढ़ना पड़ता है छत या ऊंचे स्थान पर

मोबाइल पर बात करने के लिए आज भी गावों व ढाणीयों मे घरों की छत व ऊंचे स्थान पर चढ़ना पड़ता है। वर्तमान में मोबाइल फोन आवश्यक वस्तुओं में से एक है जहां पर मोबाइल का नेटवर्क नहीं होने से ग्रामीणों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। आज जब मोबाइल नेटवर्किंग पूरी तरह से सक्रिय हैं, एसे मे ग्रामीण क्षेत्रों मे मोबाइल नेटवर्क का नही होना एक बोहत बड़ी समस्या हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here