चुनाव चौपालों पर अब ग्राम पंचायत चुनाव की चहल-पहल शुरू

0
चौपालों पर अब ग्राम पंचायत चुनाव की चहल-पहल शुरू

चुनाव चौपालों पर अब ग्राम पंचायत चुनाव की चहल-पहल शुरू

चुनाव पंचायत : कोरोना से चुनाव प्रचार रहा फीका, सोशल मीडिया से कर रहे वोटरों से संपर्क

फ़ास्ट न्यूज़ रियां बड़ी : गांव की सरकार बनाने में पंचायत चुनाव के लिए गांवों में चौपाल पूरी तरह से सज गई है। हालांकि कोरोना संक्रमण का खौफ आसपास के क्षेत्रों में स्पष्ट रूप से नजर आ रहा है जिससे मतदाताओं में इस बार इतना जोश और उत्साह नहीं है, जितना होना चाहिए, फिर भी सोशल मीडिया के माध्यम से सरपंच पद के उम्मीदवार जमकर चुनाव प्रचार कर रहे हैं । सोशल मीडिया पर चुनाव प्रचार पूरी तरह से परवान पर है पंचायत राज के तहत ग्राम पंचाायतों के चुुनाव तीसरे चरण 6 अक्टूबर को होने वाले हैं।

-ग्रामीण क्षेत्रों मे जागरूक होने लगे मतदाता

जिसमें रियां बड़ी से 9 उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं।अधिकांश ग्राम पंचायतों में चुनाव की सरगर्मी शुरू हो गई है।

रियां बड़ी पंचायत करीब बीस हजार की जनसंख्या मानी जाती हैं।जिसमे से कुल नो हजार मतदाता बताएं जा रहें हैं।

गावों में सुबह से शाम गांव की चौपाल पर चुनाव की चर्चा शुरु हो गई है।

चुनाव लड़ने के इच्छुक उम्मीदवार भी तैयारियों में जुट गए है।

वोटरों को लुभाने के लिए सगेे-संबंधियों व आस-पड़ोस के लोगों से संपर्क कर रहे हैं।

वोटर भी अपने गांव के विकास को ध्यान में रखते हुए खुद के गांव का प्रतिनिधित्व को चुनने को लेकर चर्चा में मशगूल हैं

लोगों का कहना है कि बहुत से ऐसे युवा है जो पहली बार अपने मत का उपयोग करेंगे।

अपनी गांव की स्थिति को बेहतर बनाने के लिए ईमानदार व मेहनती प्रत्याशी की तलाश कर रहे हैं। वहीं युवाओं में काफी जोश है।

-गांव का सरपंच गांव में भेदभाव के बजाए मेल-मिलाप पर ध्यान दें।

गरीब हो अमीर हो सभी को सरकार की हर स्कीम का फायदा करवाए।

ग्राम पंचायत के बजट को आम जनता के बीच रखकर आम जनता के हित में कार्य करवाना।

ग्राम पंचायत में वार्षिक बैठक के दौरान ग्राम में वर्ष भर में कितना विकास कार्य हुआ

कितना खर्च हुआ कितना बचत हैं,संपूर्ण विवरण आम जनता को बताये, ग्राम पंचायत के

बजट का एक भी पैसा कमीशन, रिश्वत के रूप में नहीं जाने दे।ग्राम पंचायत के युवाओं को रोजगार दिलवाने की मजबूत पैरवी करे।

ग्राम पंचायत के मजदूर वर्ग के लोगों को सरकार द्वारा मिलने वाला सहयोग प्रदान करवाने की मजबूत पैरवी करना एवं सहायता दिलवाना।

शिक्षा के क्षैत्र में गुणवत्ता प्रदान करवाना एवं शिक्षा के स्तर को बढ़ाना। ग्राम पंचायत मैं चिकित्सा सेवा की कुशल व्यवस्था करना योग्य चिकित्सको की सेवाएं प्रदान करवाना।

इसके लिए स्थानीय स्तर पर रोजगार उपलब्ध करवाना। ग्राम पंचायत के सभी परिवारों को विद्युत कनेक्शन से जोड़कर,

अंधेरा मुक्त ग्राम पंचायत बनाना। ग्राम पंचायत के सभी मुख्य मार्गों का डामरीकरण,सी. सी. रोड़ करवाना।

स्वच्छ भारत अभियान के तहत शौचालय बनाना एवं गांव के सार्वजनिक स्थल पर शौचालय बनाना।

ग्राम पंचायत पर जनसुनवाई केंद्र स्थापित करना और आम समस्या का समाधान करना।

पीने के शुद्ध पानी की व्यवस्था करवाने के प्रयास करना।

सरकारी योजनाओं का बी.पी.एल और पैशन धारियों को सीधा फायदा दिलवाना। सरपंच का लक्ष्य जनता का

पैसा जनता को मिले। हमारा सरपंच ऐसा होना चाहिए जो गांव का चहुंमुखी विकास करा सकें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here